पीलिया का इतना आसान इलाज नहीं जानते होंगे आप – Most Easy Treatment Of Jaundice At Home In Hindi

पीलिया का इतना आसान इलाज नहीं जानते होंगे आप – Most Easy Treatment Of Jaundice At Home In Hindi

A lot of people have come up to me claiming that I need to drink coconut water daily in these last few weeks of pregnancy to prevent newborn jaundice. This all popular myth has mothers-to-be scrambling to buy/drink coconut water daily in their last few weeks before delivery. But is it really true? Is coconut water the miracle drink that prevents jaundice?

The coconut is known as the pregnancy superfood because it’s oil/milk and water have numerous benefits to pregnant mothers.
Coconut water on the other hand has one of the richest sources of nutrients (think: natural sports drink that’s going to keep you well-hydrated) with zero fat. These nutrients such as calcium, sodium, potassium and phosphorus, help maintain blood pressure and fluid balance, regulate one’s body pH and keep muscles functioning properly. Coconut water is also a natural diuretic, so it flushes you out faster and can help to prevent UTIs.. most probably better than taking Cranberry Juice.
पीलिया कैसा भी और कितना भी पुराना हो 3-4 दिन में बिल्कुल सही
पीलिया लीवर से सम्बंधित रोग है, इस रोग में रोगी की आँखे पीली पड़ जाती हैं, पेशाब का रंग पीला हो जाता है, अधिक तीव्रता होने पर पेशाब का रंग और भी खराब हो जाता है, पीलिया दिखने में बहुत साधारण सी बीमारी लगती है, मगर इसका सही समय पर इलाज ना हो तो ये बहुत भयंकर परिणाम दे सकती है, रोगी की जान तक जा सकती है इसमें. आज हम आपको इस जानलेवा बीमारी का एक ऐसा रामबाण उपचार बता रहे हैं जो आपकी बरसों से चलती आ रही इस बीमारी को भी ज्यादा से ज्यादा 3-४ दिन में बिलकुल सही कर देगी. ये उपचार पीलिया चाहे वो हेपेटाइटिस ऐ बी या सी हो या फिर बिलरुबिन या ESR भी बढ़ा हुआ हो तो भी ये बहुत कारगर है. तो आइये जाने.
पीलिया हेपेटाइटिस ऐ बी या सी का काल हरा नारियल.
रोगी को दिन में कम से कम 2 हरे नारियल का पानी पिलायें, नारियल तुरंत खोल कर तुरंत ही पानी पिलाना है, इसको ज्यादा देर तक रखना नहीं है. एक दिन के बाद ही पेशाब का कलर बदलना शुरू हो जायेगा. ऐसा निरंतर ४-५ दिन करने के बाद आप बिलकुल स्वस्थ अनुभव करेंगे. ऐसे में रोगी को जो भी इंग्लिश दवा दी जा रही हो उसको एक बार बंद कर दी जाए.. और अगर रोगी कि हालत बहुत सीरियस हो तो उसको इसके साथ में ग्लूकोस दिया जा सकता है. और बाकी पूरा दिन सिर्फ नारियल पानी पर ही रखें. ये प्रयोग अनेक लोगों पर पूर्ण रूप से सफल रहा है. लीवर में होने वाले किसी भी रोग के लिए भी इस प्रयोग को निसंकोच अपनाया जा सकता है.
ऐसी महत्वपूर्ण जानकारियों को कृपया आगे शेयर करे