एलर्जी : कारण, लक्षण तथा घरेलू उपाय – Allergies: Causes, Symptoms and Home Remedy | Allergy Ka ilaz

एलर्जी : कारण, लक्षण तथा घरेलू उपाय – Allergies: Causes, Symptoms and Home Remedy | Allergy in Hindi | Allergy Ka ilaj in Hindi | Allergy Treatment in Hindi | الرجی: کی وجہ سے، علامات اور گھریلو اقدامات

Please Subscribe, Share and like.
Facebook – https://www.facebook.com/Healthcareforyou.in/
Website – http://www.healthcareforyou.in/

एलर्जी ( Allergy ) –

हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति की कुछ बाहरी तत्वों के प्रति अस्वाभाविक प्रतिक्रिया का नाम एलर्जी है। पूरे विश्व में यह रोग तेजी से फैल रहा है। आजकल युवा अवस्था एवं बाल्यावस्था में भी एलर्जी रोग देखने में आता है ।

एलर्जी प्रतिक्रिया करने वाले तत्वों को एलरजेन कहा जाता है । ये एलर्जी पैदा करने वाले तत्व वास्तव में कोई हानिकारक कीटाणु या विषाणु नहीं बल्कि अहानिकर तत्व होते हैं, जैसे- बादाम, पराग कण या कुछ प्राकृतिक तत्व ।

एलर्जी का कारण –

मौसम – मौसम में आने वाले अचानक बदलाव के कारण एलर्जी हो सकती हैं ।
अनुवांशिक – अनुवांशिक कारणों से भी कुछ परिवारों में सभी लोगो को एलर्जी के कारण एलर्जिक अस्थमा हो सकता हैं ।
प्रदुषण – गाड़ी, मोटर और कारखानों से निकलने वाले धुए और केमिकल से हवा और पानी प्रदूषित हो जाते हैं। ऐसे प्रदूषित हवा या पानी से संपर्क में आने से एलर्जी हो जाती हैं ।
पराग कण – फूलों के छोटे-छोटे पराग कणो के कारण कई लोगो को एलर्जी हो जाती हैं ।
कीड़े – बिस्तर और घर में रहने वाले छोटे किटक, कीड़े और कॉकरोच के कारण भी एलर्जी हो सकती हैं।
सौंदर्य प्रसादन – ज्यादातर लोग आजकल ज्यादा सुन्दर दिखने के लिए कई किस्म के केमिकल युक्त सौंदर्य प्रसाधनो का इस्तेमाल करते हैं । केमिकल युक्त पाउडर, शैम्पू, साबुन इत्यादि से एलर्जी के मामलों में बढ़ोतरी होती हैं ।
खाद्य पदार्थ – कुछ लोगो को खाद्य पदार्थो ( दूध, खीरा, टमाटर, बदाम, अंडा, मछली ) से भी एलर्जी होती हैं ।
दवा – दर्दनाशक दवा, सल्फा ड्रग्स, पेनिसिलीन जैसी कई दवा से एलर्जी हो सकती हैं ।

एलर्जी के लक्षण –

एलर्जी का सबसे सामान्य लक्षण हैं – त्वचा पर दाने या फुंसियाँ और गले में घरघराहट या साँस लेने में कठिनाई । अन्य लक्षण एलर्जी के कारण पर निर्भर करते हैं, और इनमें ये शामिल हो सकते हैं –

नाक में खुजली, बहती या बंद नाक,
साइनस पर दबाव,
छींकना,
आँखों में खुजली, लाली, सूजन, जलन या पानी बहना,
गले में खुजली या खाँसी,
स्वाद या गंध में कमी,
सिरदर्द,
मिजली या उल्टी,
पेट में दर्द या मरोड़,
दस्त लगना,
मुँह के आसपास सूजन या निगलने में कठिनाई